Monday, October 16, 2017
0

राहगिरी में डी.ए.वी. पुलिस पब्लिक स्कूल पुलिस लाईन करनाल की ओर से किया गया दीवाली मेले का आयोजन:----- 

आज सुबह आयोजित हुए राहगिरी कार्यक्रम में डी.ए.वी. पुलिस पब्लिक स्कूल पुलिस लाईन करनाल के षिक्षक स्टाफ व बच्चों द्वारा दीवाली मेले का आयोजन किया गया। इस मेले के माध्यम से स्कूल की ओर से राहगिरों को पर्यावरण को बचाने और प्रदूषण रहित दीवाली मानाने का संदेष दिया गया। इस अवसर पर स्कूल की ओर से राहगिरों के लिए छोटे-छोटे व बहुत प्यारे-प्यारे खेलों को आयोजन किया गया, जैसेः--- टेबल पर रखे गिलासों को दूर खड़े होकर गेंद मारकर गिराना, जोकर की मुंह खुली हुई फोटो सामने रखकर उसके मुंह में दूर से गेंद डालना और गुब्बारे में हवा भरकर टेबल पर रखे डिस्पोजेबल काफी कपों को उस गुब्बारे की हवा के साथ टेबल से निचे गिराना, एक गत्ते के डिब्बे को पीठ पर बांधकर उसमें छोटी-छोटी प्लासटीक बाल भरकर उछलना और उछल-उछल कर उन बालस को उससे बाहर गिराना व आधा बोरी में घुसकर उछलते हुए दौड़ना आदि। बच्चे तो बच्चे बड़ों ने भी इन खेलों का जमकर लुत्फ उठाया, क्योंकि वहां पर उपस्थित बच्चों से ज्यादा तो बड़े उन खेलों में भाग लेने के लिए उत्सुक हो रहे थे। डी.ए.वी. पुलिस पब्लिक स्कूल की प्रिंसिपल ने बताया कि हमने कुछ दिन पहले पुलिस लाईन करनाल में स्थित अपने स्कूल में भी यह सोचकर दीवाली मेले का आयोजन किया था, कि बच्चें यदि पटाखे नही जलाएगें तो उनके मनोरंजन के लिए कोई न कोई दूसरा साधन होना ही चाहिए और हमने इस कार्यक्रम का आयोजन किया, जिससे बच्चों को बहुत खुषी मिली थी। यह सब देखने के बाद ही हमने इस कार्यक्रम का आयोजन आज राहगिरी में भी किया है, जिसे सभी बहुत पसंद कर रहे हैं और इसके खेलों का आनंद उठा रहे हैं।
इसके अलावा सभी ने कैरम, शतरंज, डांस, कबडृडी, तीरंदाजी, मटका रेस, वालीबाल, रस्सा चढ़कर या रस्सा कस्सी करके व शुटिंग और पंटिंग से भी अपना मनोरंजन किया। कुछ लोग टै्फिक ताई और सरदार के साथ सेल्फी ले रहे थे, तो कुछ वहां पर होने वाली कार्यक्रमों को मात्र दूर से देखकर ही अपना मनोरंजन कर रहे थे। श्री राम ग्लोबल स्कुल की ओर से भी राहगिरी कार्यक्रम की स्टेज पर बच्चों द्वारा एक नाटक की प्रस्तुती दी गई, जिसके माध्यम से पर्यावरण को शुद्व रखकर प्रदूषण रहित दीवाली मनाने के लिए लोगों को प्रेरित किया गया। इसके साथ-साथ बच्चों ने नाटक के माध्यम से चाईनीज सामान का बहिष्कार करने व अपने देष में बनी वस्तुओं जैसे--- दीपक इत्यादि का उपयोग करके दीवाली मनाने के लिए भी कहा। क्योंकि हमारे ऐसा करने से किसी गरीब के घर में दीवाली खुषी से मनाई जाएगी और हमारे देष का पैसा देषवासीयों के ही काम आएगा। जेल कर्मीयों ने भी रंगोली बनाकर दीपावली की शुभ कामनाएं करनाल वासीयों को दी।










Back to Top